तुम मेरे लिए

तुम मेरे लिए

तुम्हारा आना
जेठ की दुपहरी में
ठंडी बतास का बह जाना
तुम्हारा साथ
बादल के पास
इंद्रधनुष का छाना।

तुम्हारा मुस्कुराना
अँधेरी रात में
बिजली का कौंध जाना
तुम्हारी बातें
भोर की बेला में
गौरैया का चहचहाना।

तुम्हारा गुस्सा
पहाड़ की ऊँचाइयों पर
पलाश की लाली का लहक जाना
तुम्हारा जाना
काले बादलों का
बिन बरसे गुजर जाना।


Image : Waiting by the Window
Image Source : WikiArt
Artist : Carl Holsøe
Image in Public Domain


Notice: Undefined variable: value in /var/www/html/nayidhara.in/wp-content/themes/oceanwp-child/functions.php on line 154
मुकुल अमलास द्वारा भी