दूरी

दूरी

दूरी इतनी ही रहे कि
आँसुओं तक पहुँच सकें हाथ
इतनी ज्यादा नहीं कि
धड़कनें भी न सुनायी पड़ें
इतनी तो बिल्कुल ही नहीं कि
अपने मनुष्य होने पर
संदेह होने लगे।


Image : Jacob Mourns His Son
Image Source : WikiArt
Artist : Joseph James Tissot
Image in Public Domain


Notice: Undefined variable: value in /var/www/html/nayidhara.in/wp-content/themes/oceanwp-child/functions.php on line 154
सुभाष राय द्वारा भी