मौन हूँ मैं

मौन हूँ मैं

क्या बताऊँ कौन हूँ मैं
नाम क्या
जाना कहाँ

समय की वीथियाँ लेकर के आईं
और लेकर जा रही हैं अब कहाँ
ओर है न छोर है, न भोर है
है धुँधलका ही धुँधलका
और डगर है लापता
यहाँ अब मौन हूँ मैं…!


Image: Reflections
Image Source: WikiArt
Artist: Carl Holsøe
Image in Public Domain


Notice: Undefined variable: value in /var/www/html/nayidhara.in/wp-content/themes/oceanwp-child/functions.php on line 154
निशा निशांत द्वारा भी